दिल्ली विधानसभा चुनाव में सियासी घमासान |

0
303

दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए सियासी घमासान तेज हो गया है. भारतीय जनता पार्टी ने चुनाव अभियान को धार देने के लिए अपने दिग्गजों को उतार दिया है. केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह भी दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार में पूरी तरह से जुट गए हैं. रविवार को उन्होंने दिल्ली कैंट इलाके में ‘महा जनसंपर्क अभियान’ शुरू किया.
भारतीय जनता पार्टी के ‘महा जनसंपर्क अभियान’ के तहत अमित शाह लोगों के घर-घर जाकर पर्चा बांट रहे है. रविवार को डोर-टू-डोर कैंपेन के दौरान अमित शाह के साथ भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता भी भारी संख्या में मौजूद रहे. पिछले कई दिनों से नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) को लेकर देश भर में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं. इन सबके बीच जनसंपर्क को निकले अमित शाह पर अल्पसंख्यकों ने फूल बरसाए. शाह ने अल्पसंख्यकों से भाजपा के उम्मीदवार के लिए वोट मांगे.
भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) ने दिल्ली चुनाव के लिए पूरी ताकत झोंक दी है. अमित शाह ने सहयोगी दल जेडी(यू) प्रत्याशी के समर्थन में आयोजित चुनावी रैली को बिहार के मुख्यमंत्री नीतिश कुमार के साथ मंच भी साझा किया. बुराड़ी विधानसभा में गृह मंत्री अमित शाह और बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने जनसभा को संबोधित किया. अमित शाह ने केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कहा कि केजरीवाल झूठ बोलने में नंबर-वन9 हैं और वो अपने वादे भूल जाते हैं. वहीं, नीतीश कुमार ने कहा कि दिल्ली में न सड़क ठीक, न पानी, फिर दिल्ली में केजरीवाल ने क्या किया?
चुनावी अभियान के दौरान तिलक नगर में जनसभा को संबोधित करते हुए अमित शाह ने केजरीवाल पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि केजरीवाल ने बोला था कि DTC की 5000 नई बसें लाएंगे, लेकिन जो थीं उनमें से भी एक हजार से ज्यादा बसें घट गई हैं. हालिया BIS सर्वे के जरिए से दिल्ली के साथ-साथ 21 शहरों के पानी का परीक्षण किया गया. सर्वे के अनुसार, 21 शहरों से भी ज्यादा गंदा पानी दिल्लीवालों को मिल रहा है.